आज की खबर आज
Uncategorized

क्वारंटाइन की सलाह पर ट्रेन में घूम रहे लोग, 8 यात्री कोरोना पॉजिटिव मिले

नई दिल्ली। कोरोना वायरस को फैलने से रोकने की सरकार हर संभव कोशिश कर रही है। लेकिन कुछ लोग सलाह नहीं मानते हुए खुद के साथ-साथ औरों की जान भी खतरे में डालने पर तुले हुए हैं। आज ऐसे दो लोगों को पकड़ा गया है, जिन्हें जरूरी रूप से क्वारंटाइन (अलग रखना) होने को कहा गया था, बावजूद इसके वह राजधानी ट्रेन में घूम रहे थे। इसके अलावा आठ ऐसे लोगों का कोरोना टेस्ट पॉजिटिव आया है जो ट्रेन में बैठकर 13 मार्च को दिल्ली से तेलंगाना गए थे।
कनिका कपूर वाले मामले से सबक न लेते हुए लोग खुद उन्हीं गलतियों को दोहरा रहे हैं। रेल मंत्रालय ने शनिवार को बताया कि आज राजधानी ट्रेन में दो लोगों को पकड़ा गया है। दोनों को जरूरी रूप से क्वारंटाइन रहने को कहा गया था। बावजूद इसके वे ट्रेन में थे। उन्हें अलग रहने को कहा गया है इसकी जानकारी उनके लगे निशान से मिली दोनों बेंगलुरु से दिल्ली की तरफ सफर कर रहे थे। दोनों को फटाफट ट्रेन से उतारा गया और फिर पूरे कोच को सैनिटाइज किया गया।
खांसी, जुकाम या बुखार जो सर्दियों के मौसम में सामान्य लगता था अब लोगों के हाथ-पांव फुला रहा है। वजह है कोरोना वायरस। इस जानलेवा वायरस के लक्षण इन्हीं सामान्य रोगों जैसे होते हैं, इसलिए लोग कुछ समझ नहीं पाते। ऐसे में सब खौफ में जी रहे हैं कि कहीं उन्हें या उनके बगल में तेजी से छींक रहा शख्स कोरोना की चपेट में तो नहीं है। अगर आप भी इसी डर से दो चार हो रहे हैं तो आज जान लीजिए कि कोरोना और सामान्य खांसी-जुकाम में क्या फर्क है!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *