आज की खबर आज
International

चीन ने लैब में गलती से पैदा कर दिया कोरोना वायरस?

बीजिंग। चीन में फैले कोरोना के खौफ ने दुनियाभर में लोगों को हिला दिया है। हर दिन कोरोना वायरस (कोविड-19) से संक्रमित लोगों की संख्या में इजाफा हो रहा है। लेकिन अभी भी बड़ा सवाल है कि आखिर इस खतरनाक वायरस की शुरुआत कहां से हुई। चीन के हुबेई प्रांत की राजधानी वुहान को इस बीमारी का केंद्र माना गया है। लेकिन अब चीनी वैज्ञानिकों का मानना है कि हो सकता है कोरोना वायरस की शुरूआत वुहान के फिश मार्केट से कुछ दूर स्थित एक सरकारी रिसर्च लैब से हुई हो।
चीन की सरकारी साउथ चाइना यूनिवर्सिटी आॅफ टेक्नोलॉजी के मुताबिक, हुबेई प्रांत में वुहान सेंटर फॉर डिसीज कंट्रोल ने रोग फैलाने वाली इस बीमारी के वायरस को जन्म दिया हो। स्कॉलर बोताओ शाओ और ली शाओ का दावा है कि डब्ल्यूसीएफडीसी ने लैब में ऐसे जानवरों को रखा, जिनसे बीमारियां फैल सकती हैं, इनमें 605 चमगादड़ भी शामिल थे। उनके मुताबिक, हो सकता है कि 2019 में कोरोना वायरस की शुरूआत यहीं से हुई हो। इसके अलावा इनके रिसर्च पेपर में यह भी कहा गया है कि कोरोना वायरस के लिए जिम्मेदार चमगादड़ों ने एक बार एक रिसर्चर पर हमला कर दिया और चमगादड़ का खून उसकी स्किन में मिल गया।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग को पत्र लिख कर कोरोना वायरस महामारी पर भारत की तरफ से मदद की पेशकश की है। अब तक चीन में कोरोना वायरस से 800 से ज्यादा लोग मारे जा चुके हैं। प्रधानमंत्री ने चीन के राष्ट्रपति और वहां की जनता के प्रति एकजुटता भी व्यक्त करते हुए मारे गए लोगों के प्रति संवेदना व्यक्त की है। इसके साथ ही भारतीय नागरिकों को वापस लाने में चीन से मिली मदद के प्रति आभार भी व्यक्त किया है। अब तक 17 सौ से ज्यादा जानें ले चुके कोरोना वायरस के खौफ के बीच हवा में कई आशंकाएं और सवाल भी तैर रहे हैं। क्या कोरोना वायरस चीन की सरकार की प्रयोगशाला में पैदा हुआ था? कुछ वैज्ञानिकों को इस बात की पूरी आशंका है। इन वैज्ञानिकों के मुताबिक बहुत संभव है कि वुहान के मछली बाजार से कुछ दूर स्थित वुहान सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल ऐंड द वुहान इंस्टिट्यूट आॅफ वाइरॉलजी में चमगादड़ों और जानवरों से इंसान में फैलने वाली बीमारियों पर रिसर्च के दौरान यह वायरस पैदा हुआ हो।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *