आज की खबर आज
National

बजट में टैक्स कटौती की गुंजाइश नहीं!

नई दिल्ली। एक फरवरी को पेश होने वाले बजट में अगर आपको सबसे ज्यादा इंतजार पर्सनल इनकम टैक्स में कटौती का है तो आपके हाथ निराशा लग सकती है। मौजूदा वित्त वर्ष में सरकार का टैक्स कलेक्शन काफी कम रहने का अनुमान है। टैक्स कलेक्शन दो लाख करोड़ रुपये कम रहने का अनुमान है। ऐसे में वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण के टैक्स के मोर्चे पर कोई खुशखबरी देने की गुंजाइश कम दिख रही है।
सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, वित्त वर्ष 2019-20 के लिए इनकम और कॉपोर्रेट टैक्स कलेक्शन 1.5 लाख करोड़ रुपये कम रह सकता है। वहीं, इनडायरेक्ट टैक्स कलेक्शन टारगेट से 50,000 करोड़ रुपये कम रह सकता है। यानी कुल मिलाकर 2 लाख करोड़ रुपये की कमी। अब जब सरकार पहले ही टैक्स कलेक्शन के मोर्चे पर इतना बड़ा नुकसान झेलती रही है तो जाहिर है बजट में टैक्स कटौती का ऐलान की गुंजाइश कम बनती है। सितंबर 2019 में इकोनॉमी को रफ्तार देने के लिए वित्त मंत्री निर्मला ने कॉरपोरेट टैक्स रेट में बड़ी कटौती का ऐलान किया था। ऐसी उम्मीद की जा रही थी कि आगे पर्सनल इनकम टैक्स में भी कटौती का ऐलान किया जा सकता है। बहरहाल, उम्मीद से कम टैक्स कलेक्शन का अनुमान और विनिवेश टारगेट पूरा न होने के कारण इसकी गुंजाइश खत्म सी दिख रही है। 28 वर्षों में पहली बार कॉरपोरेट टैक्स में इतनी बड़ी कटौती की गई थी और इस 10 पर्सेंट की कटौती से सरकारी खजाने पर 1.45 लाख करोड़ रुपये का बोझ बढ़ा था।

Join the discussion

  1. ปั้มไลค์

    Like!! Great article post.Really thank you! Really Cool.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *