आज की खबर आज
Uncategorized

आतंकी नेटवर्क का एनसाइक्लोपीडिया है डीएसपी देविंदर

श्रीनगर। हिज्बुल मुजाहिदीन के आतंकवादियों को कश्मीर से जम्मू ले जा रहे जम्मू-कश्मीर पुलिस के डीएसपी देविंदर सिंह विवादों के घेरे में आ गए हैं। डीएसपी देविंदर सिंह को हिज्बुल आतंकी नवीद बाबू और अल्ताफ के साथ अरेस्ट किया गया है। डीएसपी सिंह पर भ्रष्टाचार और हिज्बुल आतंकवादियों की मदद का आरोप लगा है। अब एनआईए और खुफिया एजेंसियां सिंह आतंकवादी कनेक्शन को लेकर पूछताछ कर रही हैं। उधर, इस पूरे खुलासे के बाद श्रीनगर से लेकर दिल्ली तक सत्ता के गलियारे में भारी तूफान सा आ गया है।
विवादों के घेरे में आए देविंदर सिंह ने एक एसआई के रूप में 1990 के शुरूआती वर्षो में जम्मू-कश्मीर पुलिस जॉइन किया था। वर्ष 1994 में जम्मू-कश्मीर पुलिस की अत्यंत प्रशिक्षित फोर्स एसओजी की स्थापना के बाद देविंदर सिंह को आउट आॅफ टर्न प्रमोशन दिया गया। इस बीच शक्तियों गलत इस्तेमाल करने का आरोप लगने के बाद मार्च 2003 में तत्कालीन मुख्यमंत्री मुफ्ती मोहम्मद सईद ने एसओजी को खत्म कर दिया। इस दौरान एसओजी के 53 अधिकारियों के खिलाफ मानवाधिकार उल्लंघन के 49 मामले दर्ज किए गए थे। इनमें से 25 अधिकारियों को बर्खास्त कर दिया गया।
एसओजी को भंग किए जाने के बाद देविंदर सिंह को ट्रैफिक डिपार्टमेंट में भेज दिया गया। बाद के वर्षों में यहां से उसे श्रीनगर पुलिस कंट्रोल रूम समेत कई पदों पर ट्रांसफर किया गया। गिरफ्तारी के समय देविंदर सिंह बेहद संवेदनशील माने जाने वाली जम्मू-कश्मीर पुलिस की ऐंटी हाईजैकिंग टीम का सदस्य था और श्रीनगर इंटरनैशनल एयरपोर्ट पर तैनात था। 9 जनवरी को जम्मू-कश्मीर के दौरे पर आई 15 सदस्यीय विदेशी राजनयिकों के टीम की सुरक्षा का जिम्मा भी देविंदर सिंह के पास था। श्रीनगर एयरपोर्ट पर देविंदर सिंह पुलिस और आर्मी, शीर्ष राजनेताओं, सांसदों के बीच संवाद की कड़ी था। उसे यह अच्छी तरह से पता था कि कौन कश्मीर आ रहा है और कौन कश्मीर से जा रहा है। एसओजी में अपनी सेवा के दौरान देविंदर सिंह आतंकियों के खिलाफ अपनी निर्ममता के लिए कुख्यात था। कहा जाता है कि देविंदर सिंह कश्मीर घाटी में टेरर नेटवर्क का चलता फिरता एनसाइक्लोपीडिया था। उसने कई बार विपरीत परिस्थितियों में सामने से मोर्चा संभाला और ऐसा जोखिम उठाया जिसे करने से पहले अन्य पुलिसकर्मी कई बार सोचते हैं।

Join the discussion

  1. ปั้มไลค์

    Like!! Thank you for publishing this awesome article.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *