आज की खबर आज
International

अमेरिकी संसद में उइगर ऐक्ट लाने पर चीन आग बबूला

पेइचिंग/ वॉशिंगटन। अमेरिका की संसद ने उइगर मानवाधिकार बिल पास किया जिस पर अब चीन ने सख्त चेतावनी दी है। पेइचिंग ने कहा है कि अमेरिका की संसद में उइगर मुसलमानों के साथ चीन के बर्ताव पर परिचर्चा का प्रतिकूल प्रभाव दोनों देशों के संबंधों पर पड़ सकता है। चीन ने कहा है कि इसका असर द्विपक्षीय सहयोग और ट्रेड वॉर को खत्म करने के लिए भविष्य में होनेवाले समझौते पर पड़ सकता है।
चीन और अमेरिका के बीच होनेवाली ऐसी डील के पहले ही ठंडे बस्ते में जाने की आशंका है। इसी सप्ताह अमेरिका के प्रेजिडेंट डोनाल्ड ट्रंप ने कहा था कि चीन के साथ होनेवाली डील में वक्त लग सकता है। ट्रंप ने कहा था कि किसी समझौते तक पहुंचने में 2020 के आखिरी तक का वक्त लग सकता है। अमेरिका के हाउस आॅफ रिप्रजेंटेटिव्स ने उइगर ऐक्ट 2019 पास किया है, जिससे चीन खासा नाराज है। उइगर ऐक्ट 2019 को अभी सीनेट से भी पास होना है और उसके बाद यह हस्ताक्षर के लिए राष्ट्रपति के पास जाएगा। हालांकि, अमेरिका के इस कदम का असर पहले से ही दोनों देशों के बीच जारी तनाव पर पड़ सकता है और यह तनाव और बढ़ सकता है। पेइचिंग की रणनीति के जानकार एक सूत्र ने बताया कि जिस कथित वन ट्रेड डील की बात की जा रही थी वह अब काफी मुश्किल नजर आ रही है क्योंकि दोनों पक्षों के बीच मतभेद पहले से काफी बढ़ गए हैं।
चीन के उत्पादों पर अमेरिका के लगाए प्रतिबंध अगले 2 सप्ताह में लागू हो सकते हैं। इन प्रतिबंधों के साथ ही अमेरिका और चीन के बीच जारी तनाव और बढ़ना लगभग तय माना जा रहा है। अमेरिकी प्रतिबंधों पर चीन के विदेश मंत्रालय की ओर से बेहद सख्त टिप्पणी आई है। चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता की ओर से दिए बयान में कहा गया कि क्या आपको ऐसा लगता है कि कोई भी हमारे हित के खिलाफ काम करेगा और हम कोई कदम नहीं उठाएंगे? हमें लगता है कि किसी भी गलत कदम और भाषा की कीमत चुकानी पड़ेगी।

Join the discussion

  1. ปั้มไลค์

    Like!! Thank you for publishing this awesome article.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *