आज की खबर आज
Sports

वॉर्नर ने पिंक बॉल से जड़ी ट्रिपल सेंचुरी, अपने नाम किए कई रेकॉर्ड

ऐडिलेड। आॅस्ट्रेलिया के धुरंधर ओपनर डेविड वॉर्नर ने पाकिस्तान के खिलाफ सीरीज के दूसरे टेस्ट मैच में ट्रिपल सेंचुरी जड़ दी। वॉर्नर ने पिंक बॉल से इस डे-नाइट टेस्ट मैच के दूसरे दिन यह उपलब्धि हासिल की। उन्होंने 389 गेंदों पर तिहरा शतक पूरा किया। आॅस्ट्रेलिया ने इस मैच में अपनी पहली पारी 3 विकेट पर 589 रन बनाकर घोषित की। तब वॉर्नर 335 रन बनाकर नाबाद थे, उनके साथ मैथ्यू वेड 38 रन बनाकर नाबाद लौटे।
वॉर्नर ने पारी के 120वें ओवर की पहली गेंद पर चौका लगाकर 300 रन पूरे किए। वॉर्नर ने इसके लिए 37 चौके लगाए। आॅस्ट्रेलिया के कप्तान टिम पेन ने टीम की पहली पारी दूसरे दिन घोषित कर दी। वॉर्नर ने 418 गेंदों की अपनी नाबाद पारी में 39 चौके और एक छक्का लगाया। वॉर्नर पाकिस्तान के खिलाफ 300 रन बनाने वाले दूसरे आॅस्ट्रेलियाई बल्लेबाज बन गए हैं। उनसे पहले मार्क टेलर ने 1998 में पेशावर में नाबाद 334 रन की पारी खेली थी। वॉर्नर चौथे आॅस्ट्रेलियाई ओपनर हैं जिन्होंने ट्रिपल सेंचुरी लगाई। वॉर्नर ने आईसीसी टेस्ट चैंपियनशिप में भी बेस्ट स्कोर बनाया। उन्होंने मुकाबले के दूसरे दिन पाकिस्तान के खिलाफ निजी 255वां रन बनाते ही यह उपलब्धि हासिल की। टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली ने साउथ अफ्रीका के खिलाफ पुणे में 254 रन की नाबाद पारी खेली थी जिसे वॉर्नर ने पीछे छोड़ दिया।
33 साल के वॉर्नर ओपनर के तौर पर तिहरा शतक लगाने वाले 16वें बल्लेबाज बने। वह पाकिस्तान के खिलाफ तिहरा शतक लगाने वाले चौथे बल्लेबाज हैं। इसके अलावा वह आॅस्ट्रेलिया के लिए ओपनर के तौर पर चौथे और ओवरआॅल 7वें बल्लेबाज हैं जिन्होंने ट्रिपल सेंचुरी लगाई। डेविड वॉर्नर आॅस्ट्रेलिया के ऐडिलेड ओवल मैदान पर ट्रिपल सेंचुरी लगाने वाले पहले बल्लेबाज बने। इससे पहले साल 1932 में दिग्गज डॉन ब्रैडमैन ने साउथ अफ्रीका के खिलाफ नाबाद 299 रन पारी खेली थी। डेविड वॉर्नर ने पारी के 122वें ओवर की तीसरी गेंद पर सिक्स लगाया और अपने निजी स्कोर को 308 रन पहुंचाया। इसी के साथ उन्होंने डे-नाइट टेस्ट में टॉप स्कोर बनाने का भी रेकॉर्ड अपने नाम कर लिया। उनसे पहले पाकिस्तान के अजहर अली ने पिंक बॉल से वेस्ट इंडीज के खिलाफ अक्टूबर 2016 में नाबाद 302 रन की पारी खेली थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *