आज की खबर आज
Uncategorized

दमन दीव और दादर नगर हवेली होंगे एक केंद्र शासित प्रदेश

नई दिल्ली। जम्मू-कश्मीर को 31 अक्टूबर को ही राज्य से दो केंद्र शासित प्रदेशों में विभाजित किया गया था और अब देश की दो यूनियन टेरिटरीज को मिलाने की तैयारी है। केंद्र सरकार ने देश के पश्चिमी हिस्से में बसे दमन-दीव और दादर-नगर हवेली को मिलाकर एक केंद्र शासित प्रदेश बनाने का विधेयक लोकभा में पेश किया। संसद के दोनों सदनों से इस विधेयक को मंजूरी मिलने के बाद अस्तित्व में आने वाले नए केंद्र शासित प्रदेश का नाम दादर और नगर हवेली तथा दमन एवं दीव होगा।
दोनों केंद्र शासित प्रदेशों के मिलाकर एक करने का यह बिल केंद्रीय गृह राज्य मंत्री जी. किशन रेड्डी ने पेश किया। केंद्र सरकार का कहना है कि देश के पश्चिमी तट पर बसे इन दोनों द्वीपों को एक किए जाने से प्रशासन बेहतर हो सकेगा। दोनों द्वीपों के बीच महज 35 किलोमीटर की ही दूरी है, लेकिन दोनों का अलग-अलग बजट तैयार होता है। दमन और दीव में दो जिले हैं, जबकि दादर नगर हवेली में एक जिला है। दोनों के एक केंद्र शासित प्रदेश बनने के बाद इसकी दो लोकसभा सीटें होंगी। बॉम्बे हाई कोर्ट पहले की तरह ही यहां के विधिक मामले देखेगा। इसके अलावा दोनों केंद्र शासित प्रदेशों के अधिकारी यहां के कैडर में आएंगे। अन्य सभी कर्मचारी भी संयुक्त केंद्र शासित प्रदेश का हिस्सा होंगे।

Join the discussion

  1. ปั้มไลค์

    Like!! Great article post.Really thank you! Really Cool.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *