आज की खबर आज
National

कोलकाता में बवाल, बीजेपी नेता रिमझिम हिरासत में, पुलिस का लाठीचार्ज

कोलकाता। पश्चिम बंगाल में पिछले कुछ दिनों सियासी पारा शांत रहने के बाद फिर गर्म हो गया है। कोलकाता में पुलिस और बीजेपी कार्यकर्ताओं के बीच संघर्ष हुआ है। भीड़ को तितर-बितर करने के लिए पुलिस को लाठीचार्ज करना पड़ा। कोलकाता पुलिस ने बीजेपी नेता रिमझिम मित्रा को धक्का-मुक्की के बाद हिरासत में ले लिया। दूसरी तरफ, जब केंद्रीय मंत्री और बीजेपी सांसद बाबुल सुप्रियो चक्रवात बुलबुल से प्रभावित इलाकों का दौरा करने निकले तो टीमएसी कार्यकर्ताओं ने उन्हें काले झंडे दिखाए।
अभिनेत्री रह चुकीं बीजेपी नेता रिमझिम मित्रा कोलकाता में डेंगू मुक्त कोलकाता समेत अनके मांगों को लेकर कोलकाता नगर निगम कार्यालय के सामने प्रदर्शन कर रही थीं। उनके साथ बड़ी संख्या में बीजेपी कार्यकर्ता भी थे। पुलिस ने प्रदर्शनकारियों पर वॉटर कैनन का प्रयोग किया साथ ही लाठीचार्ज भी किया। बीजेपी नेता रिमझिम मित्रा का कहना था कि हम अपनी मांगों के लिए शांतिपूर्ण प्रदर्शन कर रहे थे। हमने प्रदर्शन से पहले इसकी अनुमति भी ले ली थी। पुरुष पुलिसकर्मियों ने मेरे साथ धक्का-मुक्की की, हमें हिरासत में ले लिया गया।
दूसरी तरफ, केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो जब चक्रवात बुलबुल से प्रभावित इलाकों में स्थिति का जायजा लेने बुधवार को दक्षिण 24 परगना पहुंचे तो उन्हें भारी विरोध का सामना करना पड़ा और लोगों के एक समूह ने उन्हें वापस जाने के लिए कहा। सुप्रियो ने दावा किया कि प्रदर्शनकारी सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) के कार्यकर्ता थे। उन्होंने मंगलवार को बताया था कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उनसे पश्चिम बंगाल में चक्रवात प्रभावित इलाकों का दौरा करने के लिए कहा है। बाबुल सुप्रियो के काफिले को चक्रवात से सबसे अधिक प्रभावित इलाकों में से एक नमखाना पहुंचने के फौरन बाद प्रदर्शनकारियों ने रोक दिया और उन्हें काले झंडे दिखाए। केंद्रीय मंत्री ने स्पष्ट किया कि वह जमीनी हकीकत का जायजा लेने जिले में आए हैं लेकिन इसके बावजूद प्रदर्शनकारियों ने उन्हें वापस जाने के लिए कहा।

Join the discussion

  1. ปั้มไลค์

    Like!! I blog quite often and I genuinely thank you for your information. The article has truly peaked my interest.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *