आज की खबर आज
National

महिला पुलिस अफसर से वकीलों ने की थी अभद्रता

नई दिल्ली। तीस हजारी कोर्ट में हिंसक झड़प के दो और वीडियो सामने आए हैं। दोनों वीडियो सोशल मीडिया में तेजी से वायरल हो रहे हैं। वीडियो में कुछ लोग महिला पुलिस अफसर मोनिका भारद्वाज (डीसीपी नॉर्थ) के आसपास सुरक्षा घेरा बनाते हुए भीड़ से बाहर निकालकर ले जाते दिखाई दे रहे हैं। वहीं दूसरे वीडियो में भारद्वाज हिंसा थामने के लिए वकीलों के सामने हाथ जोड़ रही हैं। वीडियो के आधार पर आरोप लग रहे हैं कि महिला अफसर और उनके स्टाफ से बदसलूकी हुई है।
इस बात की पुष्टि घटना के अगले ही दिन वायरल हुआ वो आॅडियो टेप भी कर रहा है जिसमें सीनियर अफसर का आॅपरेटर हिंसक भीड़ द्वारा किए दुर्व्यवहार के बारे में जिक्र कर रहा है। हालांकि वायरल विडियो में बदसलूकी या हाथापाई जैसी तस्वीरें साफ नहीं हैं। विडियो से यह भी दावा नहीं किया जा सकता कि भीड़ में कौन लोग थे। आरोप यह भी है कि महिला आईपीएस का कॉलर तक पकड़ा गया था। दरअसल, इस वीडियो की शुरुआत में महिला अफसर अपने स्टाफ के साथ लॉकअप की तरफ भागती नजर आ रही हैं। तभी लॉकअप के पास जोरदार धमाका होता है और आग की लपटें व धुआं दिखाई देता है। इसके बाद कथित तौर पर भीड़ इतनी उग्र हुई की महिला अफसर अपने स्टाफ के साथ जान बचाते हुए कोर्ट के बाहर जाने के लिए भागती नजर आ रही हैं। इसी दौरान उनसे बदसलूकी के आरोप लग रहे हैं।
यह दूसरा वीडियो है। इसमें डीसीपी नॉर्थ मोनिका भारद्वाज भागकर वहां पहुंची हैं जहां आग लगी। सामने से आती वकीलों की भीड़ के सामने डीसीपी हाथ जोड़ती दिख रही हैं। तभी वहां धक्का-मुक्की होने लगती है। इस घटना पर अब राष्ट्रीय महिला आयोग ने स्वत: संज्ञान ले लिया है। चेयरपर्सन रेखा शर्मा ने इसकी जांच की मांग की है।

Join the discussion

  1. ปั้มไลค์

    Like!! I blog quite often and I genuinely thank you for your information. The article has truly peaked my interest.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *