आज की खबर आज
International

एफएटीएफ पाक को अगले हफ्ते कर सकता है ब्लैकलिस्ट

इस्लामाबाद। पाकिस्तान टेरर फंडिंग को लेकर फाइनेंशियल ऐक्शन टास्क फोर्स की ग्रे लिस्ट में ही रहेगा, ब्लैकलिस्ट होगा या फिर निगरानी सूची से बाहर होगा, इस पर फैसला होना है। फ्रांस की राजधानी पैरिस में 12 अक्टूबर से 18 अक्टूबर तक ऋअळऋ की बैठक होनी है, जिसमें इस पर फैसला होगा। एक मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक पाकिस्तान ने बैठक के लिए अपनी कॉम्पलियांस रिपोर्ट यानी अनुपालन रिपोर्ट तैयार कर ली है।
एफएटीएफ ने पिछले साल जून में पाकिस्तान को ग्रे लिस्ट यानी निगरानी वाले देशों की सूची में डाल दिया था। उसने टेरर फंडिंग और मनी लॉन्ड्रिंग के खिलाफ कारगर ऐक्शन के लिए 40 सिफारिशें की थीं, जिस पर इस्लामाबाद को अक्टूबर 2019 तक अमल करना था। इन पर अमल न करने पर उसे उसी तरह ब्लैकलिस्ट किया जा सकता है जैसे ईरान और नॉर्थ कोरिया को किया गया है। पाकिस्तान इससे पहले 2012 से 2015 तक भी एफएटीएफ की ग्रे लिस्ट में रहा था। पाकिस्तान एफएटीएफ की ग्रे लिस्ट से निकलने के लिए छटपटा रहा है लेकिन इस बार तो उस पर ब्लैकलिस्ट होने का खतरा मंडरा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *