आज की खबर आज
Agra

कौशल्या नन्दन के जन्मते ही अवध में बजी शहनाई

दशरथ के घर जन्मे चारों भाई, अवध में उल्लास और उमंग

आगरा। अयोध्या बने रामलीला मैदान में चारों ओर धार्मिक उल्लास था। नगर में भगवान श्रीराम के जन्म की खबर सुनते ही दीपोत्सव शुरू हो गया। मनमोहक रूप में सजे रामलीला मैदान में भक्तगण बेसब्री से प्रभु श्रीराम के दर्शन की एक झलक पाने को व्याकुल दिखे। भगवान के जन्म के लिये चार पालनों को आकर्षक में सजाया गया। दूसरी ओर लाला चन्नोमल की बारहदरी में पंंडित मनोज भारद्वाज द्वारा संगीतमय मास परायण का पाठ किया गया।
श्रीरामलीला में राजा दशरथ के सन्तान न होने के कारण अपने कुलगुरु वशिष्ठ के पास जाना, श्रृंगी ऋषि द्वारा शुभ पुत्र-कामेष्ठि यज्ञ करवाना, यज्ञ कुंड से अग्नि देव का प्रकट होना और हविष्यान्न (खीर) प्रदान करना। राजा दशरथ द्वारा तीनों रानियों कौशल्या, कैकयी व सुमित्रा को खीर प्रदान करना तथा खीर खाकर तीनों रानियों का गर्भवती होना। भगवान राम के साथ तीनों भाईयों के जन्म लेने की कथा का मंचन किया गया। श्रीराम जन्म की लीला के दौरान अवध में चारों ओर बधाई गान गाये जाने लगे। बृज क्षेत्र के सुविख्यात कलाकारों द्वारा भगवान श्रीराम की स्तुति, युगल नृत्य एवं सांस्कृतिक कार्यक्रम की प्रस्तुति दी गई। रामलीला कमेटी के पदाधिकारियों द्वारा भी नृत्य किया गया। चारों भाइयों के जन्म लेते ही बडे ही धार्मिक रीति-रिवाज से पालने में झुलाया गया। खिलौने, मिठाई, फल, मेवा, चाकलेट व टॉफियों का वितरण पूरे पंडाल में किया गया। मंगल गीत गाये गये तथा महिलाओं द्वारा एक-दूसरे के गले लगकर, नृत्य करके भगवान राम के जन्म को मनाया गया। राजा दशरथ की भूमिका मुकेष गुप्ता व रानी कौशल्या की भूमिका ऊषा गुप्ता द्वारा निभाई गई।

इन्हें मिला सौभाग्य

मयार्दा पुरूषोत्तम श्रीराम के बाल रूप में बनने का सौभाग्य राघव, लक्ष्मण आद्धिक, भरत अष्विक, शत्रुध्न-श्रेष्ठ को मिला। भक्तगण चारों भाईयों को टकटकी लगाकर देख रहे थे। चारों भाइयों से निगाह नहीं हट रही थी। श्रृंगार बड़ा ही मनमोहक था। इस मौके पर सांसद प्रो. एसपी सिंह बघेल, मंत्री डा. जीएस. धर्मेश, विधायक महेष गोयल, उपस्थित रहे। लीला में अध्यक्ष जगदीश बागला, महामंत्री श्रीभगवान अग्रवाल, राजीव अग्रवाल, अनुराग शुक्ला, मुकेश अग्रवाल, अतुल बंसल, अजय शुक्ला आदि मौजूद रहे।

रामलीला में आज
रामलीला में आज सायं 7.00 बजे सीता जन्म की सजीव झांकी का मनमोहक चित्रण प्रस्तुत किया जायेगा। राजा जनक के हल चलाने से जगत जननी मां जानकी धरा से अवतरित होंगी तथा विश्वामित्र का राम-लक्ष्मण को मांगना एवं ताड़का वध की लीला का मंचन होगा।

————-

जनकपुरी महोत्सव में दुकानों
पर पॉलीथिन रहेगी प्रतिबंधित

आगरा। इस बार निर्भय नगर एवं देव नगर में सज रही जनकपुरी को लेकर क्षेत्रीय नागरिकों में जबरदस्त उत्साह है। जनकपुरी कार्यालय में क्षेत्रीय नागरिक जनकपुरी के पास लेने पहुच रहे हैं। जनकपुरी में बाजार में कोई भी अव्यवस्था नहीं हो, इसके लिए दुकानों का पंजीकरण कर उनका स्थान निश्चित कर समिति द्वारा उन्हें टोकन दिया जा रहा है। कोई भी दुकानदार अपनी दुकान को लेकर जनकपुरी क्षेत्र में इधर-उधर नहीं घूम पाएगा। दुकानों पर पॉलीथिन का इस्तेमाल प्रतिबंधित रहेगा।
मीडिया प्रभारी अतुल दुबे के अनुसार 25, 26 एवं 27 सितंबर को शाम छह बजे के बाद जनकपुरी क्षेत्र में वाहनों का प्रवेश पूर्णता बंद रहेगा। शाम छह बजे तक ही क्षेत्रीय निवासी वाहनों को जनकपुरी महोत्सव के क्षेत्र में लेकर आ सकते हैं इसके लिए समिति द्वारा शाम छह से रात्रि आठ बजे तक समिति कार्यालय पर पास वितरित किए जा रहे हैं। साथ ही जनकपुरी देखने के लिए आमंत्रण पत्रों का भी वितरण किया जा रहा है। समिति के उपाध्यक्ष मुकेश यादव, टीपी सिंह, धर्मवीर सिंह सोढ़ी, गजेंद्र परमार,अमित उपाध्याय आदि कार्यालय में पास और टोकन की व्यवस्था संभाल रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *