आज की खबर आज
Agra

पुलिस के खुलासे से संतुष्ट नहीं है सर्राफा कारोबारी

  • पूरे माल की बरामदगी को कारोबारी द्वारा लगाई जाएगी मुख्यमंत्री और डीजीपी से गुहार
  • पुलिस बोली- जहरखुरानों के कुछ साथी हैं फरार, शेष माल भी बरामदगी का प्रयास

आगरा। एक सर्राफा कारोबारी के लाखों रुपये के हीरे भले ही पुलिस ने जहरखुरानों से बरामद कर लिए हों, लेकिन पीड़ित कारोबारी पुलिस के इस खुलासे से संतुष्ट नहीं है। वह पुलिस के इस खुलासे को अपूर्ण मान रहे हैं। मामले को मुख्यमंत्री और पुलिस महानिदेशक के पास तक ले की तैयारी में हैं। कारोबारी का कहना है कि पुलिस ने खुलासा तो किया, लेकिन जितना माल बरामद होना चाहिए, उतना नहीं हुआ है। वहीं पुलिस का कहना है कि अभी जहरखुरानों के साथी फरार हैं। शेष माल की बरामदगी के लिए प्रयास किए जाएंगे।
बता दें कि शहर के एक सर्राफा कारोबारी का डायमंड का कारोबार है। वे 28 अगस्त को आगरा से कानपुर से एसी बस से जा रहे थे। रात को समय था। बस में सभी यात्री सो रहे थे। करीब सौ किमी चलने के बाद कानपुर क्षेत्र में बस को एक ढाबे पर रोका गया। अन्य यात्रियों के साथ कारोबारी भी खाना खाने के लिए नीचे उतरे। लौटकर बस में पहुंचे तो वह बस में दी गई पानी की बोतल से उन्होंने पानी पीया। पानी पीते ही वह बेहोश हो गए और जहरखुरान उनके लाखों के हीरे लेकर चले गए। इस बात की शिकायत उन्होंने आगरा आकर हरीपर्वत पुलिस से की। अधिकारियों से मिले तो एसएसपी ने इस मामले में सर्विलांस टीम को लगाया। पुलिस ने दो जुहरखुरानों को दबोच लिया। पकड़े गए युवकों में भगवती प्रसाद निवासी चकेरी कानपुर नगर और विनोद कुमार निवासी लखीमपुरखीरी हैं।
कल एसपी सिटी प्रशांत वर्मा ने बताया पकड़े गए लोगों से पुलिस ने बीस लाख रुपये के हीरे बरामद कर लिये हैं। लेकिन कारोबारी से आज सुबह डीएलए से कहा कि वह पुलिस के खुलासे से संतुष्ट नहीं हैं। पुलिस ने उनके माल का चौथाई हिस्सा ही बरामद किया है। जब आरोपी पकड़े गए तो माल इतना कम क्यों बरामद किया गया। वह इस मामले को मुख्यमंत्री और डीजीपी के समक्ष ले जाएंगे।
वहीं सर्विलांस टीम के प्रभारी नरेंद्र कुमार ने बताया कि उनकी टीम ने खुद कारोबारी से पता किया था। तब उन्होंने बताया था कि बरामद हीरों की कीमत करीब बीस लाख रुपये है। उन्होंने तहरीर में 25 लाख रुपये के हीरे लिखाए थे। गैंग के कुछ सदस्य फरार हैं, उनके पकड़े जाने के बाद शेष माल भी बरामद होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *