आज की खबर आज
Agra

बुखार के कहर से भयभीत हैं ग्रामीण

  • घर-घर बिछ गई हैं चारपाई, उपचार में लगी टीमें
  • र्इंधौन के आसपास के ग्रामीणों को भी सता रहा डर

गांव र्इंधौन में जानलेवा बुखार से ग्रामीण भयभीत हैं। अभी तक बुखार जिंदगियों को निगल चुका है। घर-घर चारपाई बिछ चुकी हैं। आसपास के ग्रामीणों को भी बुखार के कहर का डर सताने लगा है। वहीं स्वास्थ्य विभाग ने डेरा डाल दिया है। ग्रामीणों के उपचार के लिए टीम लगी हैं। मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ. मुकेश वत्स भी दौरा कर चुके हैं। उन्होंने ग्रामीणों को भरोसा दिलाया है कि विभाग की तरफ से बेहतर उपचार किया जाएगा।
तहसील के गांव र्इंधौन में बुखार का कहर बरप रहा है। स्वास्थ्य विभाग की टीम घर-घर जाकर बुखार से ग्रसित ग्रामीणों का उपचार कर रही हैं। उन्हें दवाओं का वितरण कर रही है। गांव में दवा का छिड़काव भी कराया जा रहा है। ज्ञातव्य है कि बीते छह सितंबर को सलोनी पुत्री अशोक, आठ सितंबर को नंदनी पुत्र देवकरण, नौ सितंबर को कपूरी, गंगादेवी और मुकेश की मंगलवार को मौत हो गई थी। इससे स्वास्थ्य विभाग में हड़कंप मचा तो वहीं ग्रामीणों को बुखार की मार ने झकझोर दिया था। बुधवार को मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ. मुकेश वत्स टीम के साथ गांव पहुंच गये। उन्होंने बीमार लोगों से मुलाकात की। एएनएम और आशा बहू को फटकार लगाते हुए स्पष्टीकरण मांगने की कार्रवाई की। ग्रामीणों ने बताया कि बुखार आने पर झोलाछाप डॉक्टरों से उपचार करवाया था। उन्होंने ऐसे डॉक्टरों के खिलाफ अभिखान चलाने के आदेश दिये हैं। ग्रामीण अजब सिंह, सुन्दर सिंह, मकरंद सिंह, मुन्नालाल, बृह्मजीत को एसएन और जिला अस्पताल के लिए भेजा गया। मलेरिया विभाग के द्वारा एंटी लार्वा दवा का गांव में छिड़काव शुरू कर दिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *