आज की खबर आज
Agra

ताज पर बढ़ेगी सुरक्षा और सुविधा

बाहरी चौकसी के लिये प्री-फेब्रिकेटेड हट, पर्यटकों के लिये ड्रिंकिंग फाउंटेन

आगरा। पर्यटक सीजन नजदीक आने के साथ ही ताजमहल में सुरक्षा व सुविधाओं को बढ़ाने के प्रयास शुरू कर दिये गये हैं। एक ओर ताजमहल के बाहरी हिस्से में तैनात पुलिस व पीएसी के जवानों को चौबीसों घंटे चौकसी बरतने के इंतजाम बढ़ाये जा रहे हैं तो दूसरी ओर ताज के भीतर पर्यटकों की सहूलियत के लिये पेजयल फाउंटेन लगाने की तैयारी है।
ताजमहल के बाहर के कड़ी निगरानी बनाये रखने के लिये सुरक्षा कर्मियों के लिए प्री-फेब्रिकेटेड हट बनाने का निर्णय लिया गया है। ताज की करीब 500 मीटर की परिधि को यलो जोन घोषित किया जा चुका है। इसमें ताज के पार्श्व में यमुना पार स्थित मेहताब बाग और उसका क्षेत्र भी आता है। यहां पुलिस और पीएसी के जवानों को कड़ी धूप, बारिश और सर्दी को झेलते हुए ताज की चौकसी करनी होती है। उनकी परेशानी को कम करने और सुरक्षा के प्रति उन्हें जागरूक बनाये रखने के लिये प्री-फेब्रिकेटेड हट बनाई जाएंगी। इन पर 4.7 लाख रुपये का व्यय करने का प्रस्ताव है।
उधर ताजमहल परिसर में पानी पीने की जगहों पर लगी सभी टोटियों को पेजयल फाउंटेन में बदलने का निर्णय लिया गया है। इन ड्रिंकिंग फाउंटेन को लगाने में लगभग 28.37 लाख रुपये खर्च होंगे और पचास प्रतिशत तक पानी की बचत हो सकेगी। गौरतलब है कि स्मारक में दो-दो हजार लीटर की क्षमता के दो और एक-एक हजार लीटर के दो वाटर प्लांट हैं। एक हजार लीटर क्षमता वाले प्लांट पर जून में मेहमानखाने के पास आठ पेयजल केंद्रों को पेयजल फाउंटेन से बदला जा चुका है। ऐसा करने से पचास प्रतिशत पानी की बचत हुई। इसी से उत्साहित भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण ने ताज के सभी 24 पेयजल केंद्रों पर टोंटियों की जगह वाटर फाउंटेन लगाने का निर्णय लिया। इन फाउंटेन में पानी के प्रेशर को समान रखने के लिए प्रेशर पंप भी लगेंगे और एक निश्चित मात्रा में ही पानी निकलेगा। टोंटी से पानी पीने पर पानी की अधिक बर्बादी होती है।
ताजमहल में जल के संरक्षण पर भी ध्यान दिया जा रहा है। वेस्ट वाटर को पाइप के माध्यम से दक्षिणी गेट के नजदीक बने कुएं द्वारा रिचार्ज किया जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *