आज की खबर आज
Agra

आगरा में यमुना नदी बह रही लो फ्लड के निशान से तीन फुट नीचे

  • आज सुबह यमुना 491.8 फुट पर बह रही थी, प्रशासन अलर्ट
  • मथुरा के गोकुल बैराज पर खतरे के निशान अभी दो मीटर दूर

गोकुल बैराज से डिस्चार्ज बढ़ा और ओखला-ताजेवाला से घटा

यमुना नदी में बढ़े पानी के लेवल का नजारा।
आज सुबह जीवनी मंडी जल संस्थान के गेज पर पानी का लेवल।

भले ही आगरा में आज सुबह यमुना नदी लो फ्लड के निशान से तीन फुट नीचे बह रही थी, लेकिन घबराइए मत नदी में अभी पानी को समाने की क्षमता बाकी है। दिल्ली के ताजेवाला (हथिनीकुंड) बैराज और हरियाणा के ओखला बैराज से पानी की मात्रा लगातार घट रही ही है। इससे मथुरा के गोकुल बैराज पर दबाव कम होने लगा है, जिसका असर कल से आगरा में दिखने लगेगा।
बता दें कि जीवनी मंडी जल संस्थान परिसर में लगे गेज पर यमुना नदी के पानी का लेवल आज सुबह आठ बजे 491.8 फुट पर था, जो कल से आज तक 24 घंटे में नदी के पानी का लेवल करीब दो फुट बढ़ा है। मथुरा के गोकुल बैराज से 55,164 क्यूसेक, ओखला बैराज से 84,086 क्यूसेक और ताजेवाला बैराज से 10,632 क्यूसेक पानी डिस्चार्ज किया जा रहा था। जबकि बीते बुधवार को सुबह आठ बजे यमुना नदी का लेवल 489.4 फुट पर था। मथुरा के गोकुल बैराज से 42,295 क्यूसेक, ओखला बैराज से 1,50,597 क्यूसेक और ताजेवाला बैराज से 21,397 क्यूसेक पानी का डिस्चार्ज हुआ था।
फ्लड के जानकार बीएम शर्मा का कहना है कि रविवार को ताजेवाला बैराज से छोड़े गये सवा आठ लाख क्यूसेक पानी आगरा और मथुरा से पास हो गया है। गोकुल बैराज पर भी अब ज्यादा दबाव नहीं है। वहां से सभी गेट खुलने के कारण आगरा की ओर पानी का डिस्चार्ज बढ़ा है। ओखला बैराज से डिस्चार्ज घटने से गोकुल बैराज से आगरा की तरफ ज्यादा मात्रा में तेजी से डिस्चार्ज नहीं बढ़ेगा। यहां नदी में अभी फांट बाकी है। आज रात तक और पानी का लेवल और बढ़ेगा। कल से उसके बढ़ने की रफ्तार में कमी आएगी। यदि ओखला और ताजेवाला से पानी का डिस्चार्ज नहीं बढ़ा तो आगरा में बाढ़ के हालात नहीं बनेंगे। निचले क्षेत्रों में किनारों की ओर पानी पहले बढ़ता है। डूब क्षेत्र में बने मकानों तक पानी पहुंचने का मतलब बाढ़ नहीं है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *