आज की खबर आज
International

दबाव-हड़ताल जारी रहें, टैक्स नहीं हटेंगे-इमरान

इस्लामाबाद। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने देश की कारोबारी बिरादरी से दो टूक अंदाज में कहा कि वह दबाव और हड़ताल के सामने झुकने वालों में से नहीं हैं और देश की अर्थव्यवस्था को सुधारने के लिए उठाए गए कदम वापस नहीं लिए जाएंगे।
पाकिस्तान के व्यापारी समुदाय ने बजट में लगाए गए कई तरह के करों के खिलाफ बीती 13 जुलाई को देशव्यापी हड़ताल की थी। व्यापारियों का कहना है कि अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष के इशारे पर थोपे गए कर देश में कारोबार की रीढ़ तोड़ देंगे।लेकिन, इमरान ने साफ कर दिया कि वह करों को वापस नहीं लेंगे भले ही हड़ताल जारी रहे। उन्होंने अपील की कि देश के विकास के लिए सभी कर चुकाएं। देश के पास पर्याप्त वित्तीय संसाधन नहीं हैं। गौरतलब है कि पाकिस्तान के आर्थिक हालात खराब हो रहे हैं। गेहूं की कमी के चलते एक रोटी की कीमत 20 से 25 रुपये तक पहुंच गई हैं। इमरान सरकार ने गेहूं के निर्यात पर अब रोक लगा दी है। गुजरांवाला चेंबर आफ कॉमर्स के एक समारोह में इमरान ने कहा कि उन्हें लगता है कि व्यापारियों व उद्यमियों की हड़ताल के डर से अगर वह अपने कदम वापस खींचते हैं तो यह देश के साथ गद्दारी के समान होगा। उन्होंने कहा कि लोग चाहते हैं कि अच्छे स्कूल, विश्वविद्यालय और अस्पताल हों। यह तभी मुमकिन है जब सरकार के पास पर्याप्त संसाधन हों। उन्होंने कहा कि सरकार सभी को कर के दायरे में लाएगी। 22 करोड़ लोगों के देश में सिर्फ 15 लाख लोग टैक्स दे रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *