आज की खबर आज
Agra

गंदगी दिखे तो टोकिए निगम के वर्दीधारी को

सफाई कार्य से जुड़े सभी निगम कर्मी अब पहलनेंगे वर्दी

मोहब्बत की नगरी में आने वाले देश-विदेश के पर्यटकों को स्वच्छता एवं सुंदरता का एहसास कराने के लिए योगी से लेकर मोदी सरकार तक पसीना बहा रही हैं। इसके बाद भी शहर पर लगा गंदगी का दाग मिट नहीं पा रहा है। नगर निगम ने इस दिशा में अब एक अहम फैसला लिया है। इसके तहत सफाई कार्य में जुटे कर्मचारी से लेकर अधिकारी तक अब वर्दी में नजर आएंगे।
वैसे तो सालों पहले यहां नगर आयुक्त रहे डीके सिंह ने सफाई कर्मचारियों के लिए वर्दी की व्यवस्था लागू की थी। वर्दीधारी सफाई कर्मचारी दूर से ही नजर आते थे। डीके सिंह का तबादला होने के बाद वर्दी पहनने का नियम हवा में उड़ गया। अब अपर नगर आयुक्त कुंवर बहादुर सिंह ने वर्दी की व्यवस्था को फिर से लागू कर दिया है। उन्होंने स्वास्थ्य विभाग के अफसरों को सख्त हिदायत दी है कि जेडएसओ से लेकर सफाई कर्मचारी तक सभी वर्दी में नजर आएंगे। बिना वर्दी में कार्य करने वालों के खिलाफ कार्यवाही होगी। अपर नगर आयुक्त ने बताया कि जनता एवं जन प्रतिनिधियों से शिकायतें मिलती हैं कि नगर निगम के कर्मचारी सफाई कार्य करने उनके मोहल्ले में नहीं आते हैं, जबकि निगम के सफाई कर्मचारी विभिन्न वार्डों में तैनात हैं। इनसे कार्य करवाने के लिए सुपरवाइजर से लेकर जेडएसओ तक लगे हैं। सफाई कार्य की मॉनीटरिंग करने के लिए सभी 100 वार्डों में 33 अधिकारियों को लगाया गया है, जो रोजाना अपनी रिपोर्ट प्रस्तुत करते हैं। उन्होंने बताया कि फिलहाल सेनेटरी इंस्पेक्टरों से लेकर जेडीएसओ ने वर्दी पहनकर कार्य करवाना शुरू कर दिया है। साथ ही सभी सफाई कर्मचारियों एवं सुपरवाइजर को निर्देशित किया गया है कि वे भी वर्दी पहनकर ही कार्य करें। उन्होंने जनता से अपील की है कि वह भी शहर को स्वच्छ एवं सुंदर बनाने में सहयोग दे। कूड़े को इधर-उधर न डालकर कूड़ेदान में ही फेंकें और दूसरों से भी ऐसा करवाएं। यदि इसके बाद भी गंदगी दिखती है, तो वर्दीधारी निगम के कर्मचारी-अधिकारी को टोकिए और उसे सफाई करने के लिए कहिए। इसके बाद भी कोई लापरवाही बरते, तो सीधे शिकायत करें, ताकि जिससे उसके खिलाफ कार्रवाई हो सके।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *