आज की खबर आज
Agra

अक्षम और दागी पुलिस- कर्मियों की तलाश जारी

  • सेवानिवृत्त करने के फैसले पुलिस महकमे में मची खलबली
  • कोई हाईकोर्ट तो कोई सुप्रीम कोर्ट जाने की तैयारी में जुटा
    -सरकार के कठोर निर्णय से खुश नहीं दिख रहे पुलिसकर्मी

आगरा। 50 वर्ष की उम्र पार कर चुके दागी और अक्षम पुलिसकर्मियों को जबरन रिटायर करने की प्रक्रिया शुरू हो चुकी है। आगरा जोन से पहली सूची में 37 पुलिसकर्मियों को चिह्नित कर लिया गया है। अब उनकी रिपोर्ट स्क्रीनिंग कमेटी के सामने रखी जाएगी। स्क्रीनिंग कमेटी से ओके होने के बाद उनकी सेवाएं समाप्त कर दी जाएंगी। अधिकारियों का कहना है कि अभी ऐसे ही और पुलिसकर्मियों की तलाश की जा रही है। पहली सूची की जानकारी होने के बाद पुलिसकर्मियों में खलबली मच गई है। कोई हाईकोर्ट जाने की तैयारी में है तो कोई सुप्रीम कोर्ट जाने की बात कह रहा है। सरकार के इस निर्णय से पुलिसकर्मियों खफा हैं।
एडीजी आगरा जोन अजय आंनद बताते हैं कि सरकार के आदेश के बाद पूरी यूपी में दागी पुलिसकर्मियों और पचास वर्ष से अधिक उम्र वाले अक्षम पुलिसकर्मियों को जबरन सेवानिवृत्त किए जाने के आदेश हुए थे। इस दिशा में पुलिस अधिकारी जांच में जुटे थे। आगरा जोन से 37 पुलिसकर्मी पहली सूची में चिह्नित हो गए हैं। अब दूसरी सूची भी तैयार की जा रही है। इस प्रक्रिया से पुलिस महकमे में ही खलबली मच गई है। कुछ पुलिसकर्मियों से जब इस मामले में बात की गई तो उन्होंने बताया कि सरकार का यह निर्णय ठीक नहीं है। वह इस आदेश के खिलाफ हाईकोर्ट और सुप्रीम कोर्ट तक का दरवाजा खटखटाने की बात कह रहे हैं। आगरा रेंज की बात करें तो आईजी आगरा रेंज ए सतीश गणेश ने पहली सूची में 22 पुलिसकर्मी शामिल किए हैं। इन पुलिसकर्मियों की अब स्कीनिंग कमेंटी के सामने पूरी फाइल रखी जायेगी, उसके बाद ही आगे का निर्णय होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *