आज की खबर आज
Agra

मंडल के अधिकारियों को आयुक्त का खौफ ही नहीं!

नाराज आयुक्त ने दीं प्रतिकूल प्रविष्टियां एवं चेतावनी, मांगा स्पष्टीकरण
अधीनस्थों को सुबह नौ से 11 बजे तक जनसमस्याएं सुनने का कहा

मंडल में कई विभागों के अफसर लापरवाही की हद पार कर रहे हैं और उन्हें मंडलायुक्त का जरा सा खौफ नहीं। गत दिवस आयुक्त सभागार में मंडल के अधिकारियों का जमावड़ा रहा। मौका था मंडलीय समीक्षा बैठक का। बैठक में कई अधिकारी अनुपस्थित रहे। पूर्व की बैठकों में दिए गए दिशा-निर्देशों का भी कई अफसरों ने पालन नहीं किया। अधीनस्थों की लापरवाही पर आयुक्त अनिल कुमार ने सख्त रुख अपनाया है। उन्होंने किसी को प्रतिकूल प्रविष्टि दी गई है तो किसी महज चेतावनी देकर छोड़ दिया। कई आधिकारियों से कमिश्नर ने स्पष्टीकरण भी मांगा है।
आयुक्त अनिल कुमार ने सबसे पहले मुख्यमंत्री की महत्वाकांक्षी योजनाओं की समीक्षा की। इसके बाद मंडल में चल रहे विकास कार्यों एवं एएनएचएआई से सम्बन्धित कार्यों, कर करेत्तर, राजस्व, शान्ति एवं कानून व्यवस्था को लेकर अधिकारियों से प्रगति रिपोर्ट ली। उन्होंने सभी अधिकारियों को प्रात: नौ बजे से 11 बजे तक अनिवार्य रूप से कार्यालयों में उपस्थित रहने को कहा। काम के प्रति लापरवाह एवं खंड विकास अधिकारियों, तहसीलों व जनपद स्तरीय अधिकारियों के लैंड लाइन नम्बर संचालित रहें इसके लिए अधिकारियों को सचेत किया। आईजीआरएस के तहत प्राप्त शिकायतों के निस्तारण में मंडल के अन्य जनपदों के सापेक्ष जनपद आगरा में अधिक शिकायतें लम्बित होने पर नाराजगी प्रकट की।
आयुक्त ने क्षेत्र निरीक्षण की समीक्षा के दौरान ऐसे अधिकारियों को प्रतिकूल प्रविष्टि देने को कहा जिन्होंने एक भी निरीक्षण नहीं किया है। जिन अधिकारियों ने चार से कम निरीक्षण किया है, उन्हें भी चेतावनी जारी की गई। विद्युत विभाग एवं टोरंट से किसी भी अधिकारी के न आने पर सम्बन्धित अधिकारी से स्पष्टीकरण मांगा गया। राज्य भूमि जल संरक्षण अधिकारी को कार्य में लापरवाही करने पर प्रतिकूल प्रविष्टि दी गई। वृक्षारोपण के कार्य में लापरवाही करने पर मुख्य विकास अधिकारी मथुरा से स्पष्टीकरण मांगा गया। संयुक्त आवास आयुक्त के बैठक में न आने पर उन्हें नोटिस जारी किया गया।
एनएचएआई के अधिकारी को सिकन्दरा से मथुरा की ओर जाने पर एनएच के किनारे पड़े मिट्टी को हटाने तथा टूटे डिवाइडरों को ठीक कराने एवं वृक्षारोपण के निर्देश दिये। आबकारी, स्टाम्प एवं रजिस्ट्रेशन, परिवहन, वाणिज्यकर सहित अन्य सम्बन्धित विभागों को लक्ष्य के सापेक्ष राजस्व वसूली में प्रगति लाने को कहा गया। इस अवसर पर अपर आयुक्त प्रशासन साहब सिंह, जिलाधिकारी फिरोजाबाद चन्द्रविजय सिंह, मथुरा से सर्वज्ञराम मिश्रा, मैनपुरी से प्रमोद कुमार उपाध्याय, अपर जिला प्रशासन आगरा निधि श्रीवास्तव, संयुक्त विकास आयुक्त अशोक बाबू मिश्रा, मुख्य विकास अधिकारी फिरोजाबाद नेहा जैन व मथुरा से रामनिवास तथा परियोजना निदेशक आगरा अवधेश कुमार वाजपेयी समेत अधिकारी उपस्थित थे।

अब अफसर नियमित
करेंगे फुट पेट्रोलिंग

आगरा। शान्ति एवं कानून व्यवस्था की समीक्षा बैठक में आयुक्त ने कांवड़ मेले से सम्बन्धित कार्यों को समय से पूर्ण कराने को कहा। इस दौरान एडीएम सिटी व एसपी सिटी को कांवड़ यात्रा मार्गों का निरीक्षण करने के निर्देश दिए। आयुक्त ने एडीएम सिटी, सिटी मजिस्ट्रेट, क्षेत्राधिकारियों, उप जिलाधिकारियों एवं थानाध्यक्षों को नियमित रूप से फुट पेट्रोलिंग करने के निर्देश दिए। स्मारकों के पास से अवैध अतिक्रमण हटाये जाने एवं मथुरा में आयोजित हो रहे मुड़िया पूर्णिमा मेला को सकुशल सम्पन्न कराये जाने के लिए तैयारियों की समीक्षा की।पुलिस महानिरीक्षक ए सतीश गणेश ने परिवहन विभाग के अधिकारियों से कहा कि मंडल में जितने भी अवैध तरीके से वाहन संचालित हो रहें हैं, उन सभी पर प्रभावी कार्यवाही की जाये। उन्होंने आबकारी विभाग के अधिकारी को निर्देशित किया कि वे सुनिश्चित करें कि शराब की दुकानें निर्धारित समय पर ही खुले और बन्द हों। बैठक में उपाध्यक्ष एडीए शुभ्रा सक्सेना, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक बबलू कुमार आदि मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *