आज की खबर आज
Agra

मंटोला बवाल को कभी नहीं भूल पाएंगे एसएसपी जोगेंद्र कुमार

  • 19 दिन ही रह पाए जिले के कप्तान, 12 जून को लिया था चार्ज
  • डीआईजी भी रह पाए 11 महीने, तीन अगस्त को आए थे आगरा

मंटोला बवाल को एसएसपी जोगेंद्र कुमार कभी नहीं भूल पाएंगे। वह आगरा में कुछ दिन पहले ही आए थे। पांच से दस मिनट के बवाल ने उनका स्थानान्तरण करा दिया। डीआईजी को इसलिए हटाया गया है कि वे बाहर हैं, उनकी जगह आईजी की तैनाती की गई है। पूर्व में भी आईजी रेंज नाम से ही पद सृजित था।
बता दें कि मंटोला में बवाल की सूचना शासन तक पहुंची, तो लखनऊ से जानकारी ली गई कि आखिर बवाल के हालात कैसे बन गए। इसमें पुलिस की लापरवाही सामने आई। एसएसपी पुलिस का कप्तान होता है, इसलिए एसएसपी की जिम्मेदारी सबसे बड़ी होती है। एसएसपी को शासन ने हटा दिया है, उन्हें दूसरे जिले का भी चार्ज नहीं मिला है। एटा में पीएसी का सेनानायक बनाकर उन्हें भेजा गया है। उनकी जगह बबलू कुमार को तैनाती दी गई है। बबलू कुमार मथुरा में दो बार एसएसपी रहे हैं। बबलू कुमार के बारे में बताया जाता है कि मथुरा में उन्होंने अपराधियों की कमर तोड़ दी थी। वे डीजीपी ओमप्रकाश सिंह के करीबी भी माने जाते हैं। बबलू कुमार 2009 बैच के आईपीएस हैं। आईजी पद पर ए. सतीश गणेश को भेजा जा रहा है। वह आईजी पीएसी थे। वह वर्ष 1996 बैच के आईपीएस अधिकारी हैं और काफी तेज तर्रार माने जाते हैं।
एसएसपी ने 12 जून को आगरा में कार्यभार ग्रहण किया था। चार्ज ग्रहण करने के बाद उन्होंने परेड में आए इंस्पेक्टरों की गाड़ियों में दंगा नियंत्रण का सामान भी चेक किया था। कई के वाहन में सामान नहीं मिला था। इस पर नाराजगी व्यक्त की थी। एसएसपी कार्रवाई के मामले में थोड़ा पीछे चल रहे थे। सदर तहसील के सामने हादसे में कई लोगों की मौत हुई। इसमें ट्रैफिक पुलिस की लापरवाही सामने आ रही थी। नो एंट्री में कैंटर बड़ी आसानी से सदर तहसील तक आ गया था। चालक भी शराब पिए था। सवाल उठने पर तीन दिन बाद एसएसपी ने पांच पुलिसकर्मियों को हटाया था।

डीआइजी लव कुमार 11 महीने रह पाए। हालांकि उनका कार्यकाल अच्छा रहा। वे अच्छे अधिकारी थे। वह बाहर थे, इसलिए पद एक तरीके से खाली चल रहा था। शासन ने इसलिए आईजी को तैनात किया है। डीआईजी लव कुमार को उप महानिरीक्षक कारागार प्रशासन एवं सुधार सेवाएं बनाया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *