आज की खबर आज
Agra

बुद्ध की शिक्षा आज भी विशेष नीति के अनुकूल

अमित नगर, देवरी रोड पर तथागत भगवान गौतम बुद्ध की जयंती पर कवि सम्मेलन में सम्मेलन के दौरान काव्य पाठ करते कवि-कवयित्री। दूसरे चित्र में मौजूद श्रोतागण।

धूमधाम से मनाई गौतम बुद्ध की 2582वीं जयंती, कवियों ने सुनार्इं अपनी रचनाएं

आगरा। तथागत भगवान गौतम बुद्ध जनजागृति महासभा के तत्वावधान में गौतम बुद्ध की 2582वीं जयंती अमित नगर, देवरी रोड पर धूमधाम से मनाई गई। कार्यक्रम का उद्घाटन अतिथियों एवं महासभा के पदाधिकारियों ने संयुक्त रूप से किया। इस दौरान कवि डॉ. अंगद सिंह धारिया के संचालन में अखिल भारतीय कवि सम्मेलन का आयोजन किया गया। सम्मेलन में देश भर से आए नामचीन कवियों ने काव्य पाठ किया।
मुख्य अतिथि केन्द्रीय हिन्दी संस्थान के पूर्व निदेशक प्रो. हेमराज मीणा ने कहा कि प्राचीन भारतीय चिंतकों में गौतम बुद्ध ही ऐसे महानायक थे, जिन्होंने तत्कालीन समाज की जनभाषा पाली में समाज को सम्बोधित किया। प्रो. सीएच हेमंत राव ने कहा कि गौतम बुद्ध ने सभी को सच्चाई के मार्ग पर चलने का संदेश दिया। पूर्व आयुक्त सीएम गौतम ने कहा कि भगवान बुद्ध की शिक्षा आज के युग में विशेष नीति के अनुकूल है। अध्यक्षता कर रहे पूर्व सांसद ओमपाल सिंह निडर, पूर्व विधायक वीरू सुमन, सीपी गौतम, सुरेश चन्द्रा, डॉ. पीएस मेहरा, सोमा जैन आदि ने कवियों एवं अतिथियों का स्वागत किया।
कवि सम्मेलन में एटा के कवि बलराम सरस, सबलगढ़ के गीतकार राजवीर भारती, ग्वालियर की कवयित्री रेखा भदौरिया, मेरठ की कवयित्री शुभम त्यागी, फिरोजाबाद के कवि यशपाल, अलीगढ़ के कवि मणि मधुकर, मध्यप्रदेश की गजलकार ज्योति जलज, राजकुमार सचान, पावनी कुमारी आदि ने अपनी रचनाओं से वाहवाही लूटी। इस मौके पर मुकेश कल्याण, नवाब सिंह, अमेश खन्ना, ओपी सिंह, मंजीत सिंह, सुनीता आर्य, शैलेन्द्र सिंह, रवि आर्य, एसपी नागर, रामअवतार खसारिया, तुलाराम अहिरवार, चौखेलाल आर्य, राजेन्द्र कर्दम आदि मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *