आज की खबर आज
International

ज्यादा पानी पीने से भी हो सकती हैं दिक्कतें

लंदन। जल ही जीवन है। पानी हमारी जिÞंदगी के लिए बहुत अहम है। इसलिए हमें ज्यादा से ज्यादा पानी पीना चाहिए। जो लोग दिन भर में आठ गिलास पानी पीने की कोशिश करते हैं, उन्हें कोई नुकसान नहीं है। लेकिन, हर दम पानी ही पीते रहने के कुछ नुकसान जरूर हो सकते हैं। रोज आठ गिलास पानी पीने का फॉर्मूला सब पर लागू नहीं होता। जब जरूरत महसूस हो तब पानी पीजिए। इससे शरीर में सोडियम की कमी हो जाती है। सोडियम की कमी होने से दिमाग और फेफड़ों में सूजन आ जाती है।
डॉक्टर कोर्टनी किप्स कहती हैं कि हम शरीर के संकेतों को दरकिनार कर अपने मन से पानी पीने लगते हैं, तो ये नुकसान कर सकता है। जोहाना पैकेनहैम ब्रिटेन की एथलीट हैं। उन्होंने वर्ष 2018 की लंदन मैराथन में हिस्सा लिया था। उस दौरान उन्होंने खूब पानी पिया क्योंकि भयंकर गर्मी थी। दौड़ खत्म होने के बाद भी उनके दोस्तों ने उन्हें पानी पिला दिया। फिर वो पानी ज्यादा होने की वजह से बेहोश हो गर्इं और उन्हें एयर एंबुलेंस से अस्पताल ले जाना पड़ा। वो दो दिन तक बेहोश रही थीं। जोहाना कहती हैं कि उनका हर दोस्त और जानकार मैराथन दौड़ने के लिए एक ही सलाह देता था-ढेर सारा पानी पीते रहो।
वो अब लोगों से कहती हैं कि ज्यादा पानी पीने जैसे बिन मांगे मशविरे भी घातक हो सकते हैं। ढेर सारा पानी पीते रहने की सलाह इस कदर हावी है कि हम जहां भी जाते हैं, पानी लिए जाते हैं ताकि पीते रहें। अक्सर हम अपनी जरूरत से ज्यादा पानी शरीर को दे देते हैं।
लंदन के एक्सपर्ट ह्यू मॉन्टगोमरी कहते हैं कि भयंकर गर्मी वाले इलाके में रहने वालों को भी दिन भर में अधिकतम दो लीटर पानी की जरूरत होती है। आधे घंटे के सफर के लिए पानी की बोतल साथ लेकर चलने की जरूरत नहीं है। भले ही आप पसीने से तर-बतर क्यों न हों। ब्रिटेन की नेशनल हेल्थ सर्विस की एडवाइजरी कहती है कि आप रोज 6 से 8 गिलास पानी पिएं। इसमें दूध, सॉफ्ट ड्रिंक, चाय-कॉफी शामिल है।
हमारे लिए ये जानना भी जरूरी है कि 60 साल की उम्र के बाद प्यास महसूस करने की हमारी शक्ति खत्म हो जाती है। इस दौरान डिहाईड्रेशन होने की आशंका ज्यादा होती है। यानी बुढ़ापे में हमें पानी पीने पर ज्यादा ध्यान देना होगा। हमें अपने बुजुर्गों का भी खयाल रखना होगा कि वो नियमित रूप से पानी लेते रहें। हर इंसान की पानी की जरूरत अलग-अलग होती है। इसलिए रोज आठ गिलास पानी पीने का फॉर्मूला सब पर लागू नहीं होता। जब जरूरत महसूस हो तब पानी पीजिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *