आज की खबर आज
Agra

एक्सप्रेस-वे पर हादसे रोकने के इंतजाम करें

मुख्यमंत्री को पत्र भेज कर उठाई मांग, सुझाव भी

आगरा। वरिष्ठ अधिवक्ता व आरटीआई कार्यकर्ता केसी जैन ने मुख्यमंत्री को भेजे पत्र में गतिसीमा उल्लंघन को रोकने का जिम्मेदार एक्सप्रेस-वे के कन्सेश्नेयर को बनाये जाने की मांग की है। पत्र में कहा गया है कि गतिसीमा उल्लंघन करने वाले समस्त वाहनों की सूचना एकत्रित कर उनके चालान की सारी कागजी कार्रवाई होनी चाहिए
पत्र में कहा गया कि विगत 11 अप्रैल को आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे पर हृदयविदारक हादसे में आठ यात्रियों की अकाल मृत्यु हो गई। जैन ने कहा कि आगरा-लखनऊ एक्सप्रेसवे पर अगस्त-2017 से दिसम्बर-2018 के 17 माह में 1966 सड़क हादसे हुए, जिनमें 191 लोगों की सांसे हमेशा के लिए थम गईं। आखिर इतने अधिक हादसे क्यों हो रहे हैं, इस विषय पर तुरन्त विचार किया जाना चाहिये।
पत्र में कहा गया है कि घिसे हुए टायरों के उपयोग पर रोक होनी चाहिये जैसा कि अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर घिसे टायरों का उपयोग निषिद्ध है। अनेक हादसे टायर फटने के कारण हुये हैं। एक्सप्रेस वे का सेफ्टी आॅडिट व ब्लैक स्पॉट चिन्हांकन होना चाहिये।
इसके अलावा एक्सप्रेस-वे पर जो भी वाहन चालक निर्धारित गति सीमा का उल्लंघन करता हुआ पाया जाये, उसके ड्राइविंग लाइसेन्स को निरस्त किया जाये। वाहन चालकों का अनिवार्य ड्राइविंग कोड बनाया जाये, वाहन चालक बिना किसी आराम के निरन्तर लम्बी दूरी तय करते हैं, जिससे थकान व नींद के कारण हादसे होते हैं। हवाई जहाज, रोडवेज व रेलवे की तर्ज पर टोल के साथ इन्श्योरेन्स कवर होना चाहिये।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *