आज की खबर आज
Agra

आबिद से वीरू बने आॅटो चालक ने छात्रा को फंसा रखा था जाल में

  • फिरोजाबाद की छात्रा से गैंगरेप का मामला

  • देर रात तक टूंडला-एत्मादपुर पुलिस में सीमा को लेकर हुआ विवाद
    -अधिकारियों के हस्तक्षेप के बाद टूंडला थाने में दर्ज हो सका मुकद्मा

आगरा। समुदाय विशेष के युवक ने अपना नाम बदलकर पहले तो छात्रा से दोस्ती की और फिर दरिंदगी की सारी हदों को पार कर दिया। छात्रा तो उसकी दोस्ती को सब कुछ समझने लगी थी। वह कहीं भी जाती थी तो उसके आॅटो से ही जाती थी। युवक के दिमाग में क्या बहिशयाना सोच चल रही है, इस बात से अनजान थी। कल उसने दोस्तों संग गैंगरेप की जो हरकत की, उससे वह सदमे में आ गई है। वह अस्पताल में भर्ती है। अपनी मां से लिपटकर रोये चली जा रही है। कह रही है कि अब वह समाज को क्या मुंह दिखायेगी? उसके साथ जो धोखा हुआ है, वह उससे टूट गई है। वहीं दूसरी ओर पुलिस द्वारा गिरफ्तार किए गए चारों आरोपियों को आज जेल भेजा जा रहा है।
बता दें कि रसूलपुर के रहने वाले आॅटो चालक आबिद ने एक छात्रा को फंसाने के लिए अपना नाम वीरू रख लिया था। आॅटो में आने जाने के दौरान आबिद ने छात्रा से दोस्ती गांठ ली थी। उसे कह रखा था कि जब भी उसे कहीं जाना हो उसे फोन कर दिया करे। उसने छात्रा का उसका मोबाइल नंबर हासिल कर लिया। फिर धीरे-धीरे उससे फोन पर बात करना शुरू कर दिया। इस बीच छात्रा को उसका नाम आबिद होने की जानकारी हुई तो उससे पूछा तो उसने कह दिया कि उसका नाम आबिद उर्फ वीरु है। उसने किसी प्रकार से उसे अपनी बातों में फंसाए रखा। इस बीच छात्रा के परिजनों ने उसका विवाह तय कर दिया था। इस नवरात्र में रिश्ता पक्का होने जा रहा था, लेकिन छात्रा ने परिजनों से शादी के लिए इंकार कर दिया। इस पर परिजनों की छात्रा से कहासुनी भी हुई। कल किशोरी अपने मां से माता वैष्णो देवी मंदिर जाने की कहकर निकली। उसने आॅटो चालक आबिद को फोन करके बुला लिया और कहा कि उसे मंदिर ले चले। आबिद आॅटो से ही उसे मंदिर ले गया। इसी दरम्यान उसके दिमाग में बहशियाना सोच आ गई। उसने अपने दोस्त शाहरुख पुत्र गुड्डू निवासी नगला कोठी रसूलपुर फिरोजाबाद और जुबैद पुत्र बाबू खां निवासी कैनरा बैंक वाली गली थाना एत्मादपुर को बुला लिया। अब तीनों युवक छात्रा को बहाने से एत्मादपुर में कबाड़े की दुकान चलाने वाले अकमल के पास ले आए। चूंकि छात्रा आबिद को जानती थी, इसलिए उसने विरोध नहीं किया। यहां चारों लोगों ने उसके साथ गैंगरेप किया। रात का अंधेरा था, लड़की की चीखने की आवाज सुनकर एक व्यक्ति को लगा कि कुछ गड़बड़ है। उसने एत्मादपुर पुलिस को सूचना दे दी। पुलिस ने आकर दुकान को चारों ओर से घेर लिया। पुलिस ने चारों युवकों को दुकान से ही गिरफ्तार कर लिया। छात्रा ने पुलिस को पूरी बात की जानकारी दी। पुलिस ने छात्रा को अस्पताल में इलाज के लिए भिजवाया और चारों युवकों को थाने ले आई।
पूरी पड़ताल के बाद टूंडला पुलिस को जानकारी दी गई, लेकिन टूंडला पुलिस और एत्मादपुर पुलिस सीमा विवाद उलझती रही। सनसनीखेज वारदात को अपने थाना क्षेत्र की घटना न बताने के लिए दोनों थानों की पुलिस में चिरह होती रही। अधिकारियों के हस्तक्षेप के बाद टूंडला पुलिस ने मुकदमे को दर्ज किया और आरोपियों को टूंडला थाने लेकर चली गई। आज सुबह उन्हें जेल भेजने की तैयारी चल रही थी। हर कोई ऐसे लोगों को सख्त सजा दिए जाने की कह रहा था।
एत्मादपुर पुलिस को जानकारी मिली थी कि छात्रा के साथ पहले उसायनी में तीन लोगों ने गैंगरेप किया और एत्मादपुर में दोबारा चार युवकों ने गैंगरेप किया लेकिन देर रात टूंडला पुलिस को छात्रा ने जो बयान दिए हैं कि उसके आधार पर उसके साथ चारों युवकों ने एत्मादपुर में ही गैंगरेप किया है।

काश! अपनी मां की
बात मान ली होती
आगरा। बीए की छात्रा ने काश अपनी मां की बात मान ली होती तो आज उसे यह भयावह स्थिति को झेलना नहीं पड़ता। दरअसल छात्रा की दोस्ती आबिद से थी। इस बात की जानकारी उसकी मां को हो गई थी। मां ने उसे टोका था कि यह युवक ठीक नहीं है। इससे नाता तोड़ दो लेकिन छात्रा ने अपनी मां की बात नहीं मानी और युवक ने ऐसी बहशियाना हरकत को अंजाम दे दिया। अब किशोरी को अपनी मां की बात याद आ रही है। इसलिए वह अपनी मां से लिपटकर रात से रोये जा रही है। परिजन उसे ढाढस बंधाने का प्रयास कर रहे हैं, लेकिन उसकी दहशत और आंसू कम नहीं हो रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *