आज की खबर आज
Agra

सीकरी में भाजपा से कौन?

  • नामांकन शुरू हो चुके हैं पर भाजपा और कांग्रेस के प्रत्याशी तक अभी तय नहीं
  • सीकरी के भाजपा प्रत्याशी को लेकर है सर्वाधिक जिज्ञासा, आगरा पर कठेरिया?

नामांकन प्रक्रिया शुरू हो चुकी है और भाजपा ने जिले की दोनों सीटों पर अभी तक अपने प्रत्याशी तय नहीं किए हैं। कांग्रेस की भी यही स्थिति है। सपा-बसपा-रालोद गठबंधन की ओर से जरूर प्रत्याशी मैदान में उतर चुके हैं। भाजपा और कांग्रेस के बारे में कहा जा रहा है कि अगर आज शाम तक प्रत्याशियों के नाम घोषित न हुए तो फिर 22 मार्च या इसके बाद ही घोषित होंगे।
भाजपा में आगरा संसदीय सीट के लिए मौजूदा सांसद राम शंकर कठेरिया का नाम लगभग तय माना जा रहा है। हालांकि टिकट के दूसरे दावेदार भी निराश नहीं हुए हैं। पूर्व मेयर अंजुला माहौर लगातार दिल्ली में ही डेरा डाले हुए हैं। तीन विधायक भी उनके लिए पैरोकारी कर रहे हैं। इस सबके बावजूद संकेत यही मिल रहे हैं कि पार्टी तीसरी बार कठेरिया को ही इस सीट से मैदान में उतारने जा रही है। कठेरिया कैम्प में चल रही चुनावी तैयारियों को देखकर उनकी उम्मीदवारी पर किसी प्रकार का संशय न होने के संकेत मिल रहे हैं। इसके बाद भी हर किसी को इंतजार है पार्टी की ओर से नाम के घोषणा का। प्रत्याशियों के नाम न आने तक इसी प्रकार कयासबाजी का दौर चलता रहेगा।
फतेहपुरसीकरी सीट के भाजपा उम्मीदवार को लेकर सर्वाधिक जिज्ञासा है। यहां नित नए-नए नाम सामने आ रहे हैं। यहां से सांसद चौधरी बाबूलाल टिकट का दावा कर रहे हैं तो दर्जन भर से अधिक उम्मीदवार अपने लिए प्रयासरत हैं। बीते कल राजनीतिक हलकों में इस सीट पर एक नया नाम डॉ. केएस राना का भी चला। बड़ी तेजी से यह नाम चर्चाओं में आया। हालांकि अभी तक यह कोई नहीं कह सकता कि पार्टी इस सीट से किसे मैदान में उतारने जा रही है। इस सीट से टिकट मांग रहे दर्जन भर से अधिक दावेदार एक से बढ़कर एक हैं। इसी वजह से पार्टी को यहां प्रत्याशी का नाम तय करने में खासी माथापच्ची करनी पड़ रही है। इस सीट से कांग्रेस प्रत्याशी के रूप में राज बब्बर ने चुनाव लड़ने का मन लगभग बना लिया है। ऐसे में भाजपा को भी अपना प्रत्याशी तय करने में इस नाम को ध्यान में रखकर ही कोई फैसला लेना पड़ेगा।
कांग्रेस खेमे में फतेहपुरसीकरी सीट पर जहां राज बब्बर के आने के संकेत मिल चुके हैं, वहीं आगरा सीट को लेकर कांग्रेस के प्रत्याशी के बारे में अभी कोई हलचल नहीं है। यह तय है कि अगर राज बब्बर फिर से फतेहपुरसीकरी से लड़ते हैं तो आगरा संसदीय सीट पर भी कांग्रेस प्रत्याशी के रूप में कोई बड़ा चेहरा आएगा जो चुनाव को त्रिकोणीय मुकाबले में बदलने की स्थिति में होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *