आज की खबर आज
Agra

नगर निगम के खजाने से पहले अपनी जेब?

  • 55 करोड़ रुपये के सापेक्ष 40 करोड़ की वसूली
  • लापरवाही से नाराज हैं नगरायुक्त, बढ़ा रहे सख्ती
  • छुट्टियों से बढ़ेगी चुनौती, सप्ताह में करनी वसूली

आज से होली के त्योहार की शुरुआत हो गई। होली समेत कई अन्य छुटिटयां हैं, इसलिए अब नगर निगम के पास केवल एक सप्ताह ही बचेगा, जिसमें 55 करोड़ रुपये के गृहकर वसूली का लक्ष्य पूरा करना है। इधर वसूली में जुटी टीम की लापरवाही से नगरायुक्त की नाराजगी बढ़ रही है। उन्होंने एक दर्जन निगम कर्मियों को नोटिस और चेतावनी देने की दोबारा कार्रवाई की है। इनमें कर निर्धारण अधिकारी और कर अधीक्षक भी शामिल हैं। सवाल उठता है क्या वसूली करने वालों के लिए निगम के खजाने से पहले उनकी जेब है?
ज्ञातव्य है कि सदन ने नगर निगम को गृहकर की वसूली का लक्ष्य 50 करोड़ रुपये दिया था, जिसे नगरायुक्त ने बढ़ाकर 55 करोड़ रुपये कर लिया था। सदन को भरोसा भी दिलाया था कि समय से पहले इस लक्ष्य को प्राप्त कर लिया जाएगा, लेकिन ऐसा होता नहीं दिख रहा है। बार-बार सख्ती बढ़ाने के बाद भी गृहकर की वसूली करने वाले निगमकर्मी अपनी मनमानी से बाज नहीं आ रहे हैं। वित्तीय वर्ष की समाप्ति में ग्यारह दिन बचे हैं। इनमें कई दिन की सरकारी छुट्टी है। नगरायुक्त अरुण प्रकाश का कहना है गृहकर की वसूली करने के लिए केवल एक सप्ताह बचा है। अभी तक 40-41 करोड़ रुपये की वसूली हो सकी है। लापरवाही बरतने वालों को नोटिस दिये हैं। कार्रवाई करने की चेतावनी भी दी है। इनमें कर निर्धारण अधिकारी विजय कुमार, सीपी सिंह, एससी भारती, अजीत सिंह, कर अधीक्षक शाकिर हुसैन, वीर राज सिंह, नूरल, सुरेखा मिश्रा, सर्वेश यादव, अबरार हुसैन, सोवरन सिंह आदि शामिल हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *